Flatulence Meaning In Hindi | फ्लेटूलेंस का मतलब हिंदी में

Flatulence एक मेडिकल भाषी शब्द है। जिसका सरल मतलब होता है गैस या पाद छोड़ना। यह एक सामान्य बायोलॉजिकल प्रोसेस है। परंतु जब इसकी मात्रा अधिक हो जाये तो कोई बीमारी का संकेत हो सकता है।

Flatulence Meaning In Hindi | फ्लेटूलेंस का मतलब हिंदी में

NIH अनुसार एक सामान्य व्यक्ति दिन में 5 से 21 बार गैस छोड़ सकता है। ऐसी गैस उत्पन होने का कारण खाना खाते वक़्त साथ में आने वाली हवा। या खाद्य पदार्थ के पाचन से बनने वाली गैस है।

पेट में बनने वाली गैस अक्सर गुदा मार्ग द्वारा बहार निकल जाती है। कुछ हलकी गैस मुंह मार्ग द्वारा भी डकार के रूप में बहार निकलती है।

Flatulence Meaning In Hindi फ्लेटूलेंस का मतलब

प्रत्येक मनुष्य के पेट में गैस बनना एक आम बात है। यह प्रक्रिया शरीर में खाने को पचाने के दौरान होती है। फ्लेटूलेंस को आसान भाषा में पादना, हवा छोड़ना या गैस निकलना कहा जाता है।

वायु (गैस) दो मुख्य कारणों के आधार पर बनती है।

हम खाना खाते वक़्त या पानी पीते समय हवा निगलते है। तब हवा द्वारा ऑक्सीजन और नाइट्रोजन पाचनतंत्र में इकट्ठे होते है। ऐसी स्थिति में बाहरी वातावरण से जमा हुई हवा गैस के रूप में बहार निकल जाती है।

दूसरा कारण है जब हमारा भोजन पचता है तब पाचक गैस जैसे हाइड्रोजन, मीथेन, और कार्बन डाइऑक्साइड एकट्ठा होते है। यह जमा हुई गैस गुदा मार्ग से हो कर बहार निकलती है।

फ्लेटूलेंस से क्या बीमारी हो सकती है

कही बार फ्लेटूलेंस की वजह से पेट में भारीपना या फुलाव महसूस होता रहता है। जिसके कारण व्यक्ति अपनी भूख पूरी नहीं कर पाता। ऐसे में स्वास्थ्य सम्बंधित कही बीमारिया होने का खतरा बढ़ जाता है।

मेडिकल में डॉक्टर पेट के फुलाव को भी Flatulence Meaning बताते है। क्यों की अधिक गैस होने पर पेट में फुलाव आता है। जैसे किसी गुब्बारे में हवा भर दी जाये।

ओवर फ्लेटूलेंस निम्नलिखित बीमारी या परेशानी आने का संकेत हो सकता है।

  • शरीर का वजन कम होना
  • सही मात्रा में भूख न लगना
  • गैस के साथ मल निकलना
  • पाचन सम्बंधित इन्फेक्शन
  • कब्ज की समस्या
  • गैस्ट्रिक अलसर

Flatulence का घरेलु इलाज और दवा

इस समस्या को 3 तरीके से सही किया जा सकता है। पहला सामान्य टिप्स और घरेलु इलाज द्वारा। दूसरा किसी मेडिसिन की मदद से और तीसरा डॉक्टर से सलाह लेकर।

क्या इलाज हो सकता है

  • आप ध्यान दीजिये क्या खाने पर ज्यादा गैस उत्पन होती है, उसे खाना कम कर दीजिये।
  • पानी को जल्दबाजी में ना पिए और खाने को आराम से खाये, इससे ज्यादा हवा नहीं जाएगी।
  • अपने आहार में कार्ब्स को घटा कर हरी सब्जिया और फलों को शामिल करे।
  • एक साथ बहुत ज्यादा आहार खाने की कोशिश ना करे, भूख अनुसार ही खाना बेहतर है।
  • साइंस अनुसार रोजाना 30 मिनट एक्सरसाइज करने पर फ्लेटूलेंस नियंत्रण में रहता है।

फ्लेटूलेंस के लिए दवा

यहाँ निचे कुछ Best Flatulence Medicine के बारे में बताया है। जिसके उपयोग से गैस और पाचन सम्बंधित सभी विकार ख़तम होते है।

Rs. 123
Rs. 160
in stock
25 new from Rs. 110
as of 04/12/2022 6:33 am
Amazon.in
Rs. 174
Rs. 199
in stock
7 new from Rs. 174
as of 04/12/2022 6:33 am
Amazon.in

यह बिना डॉक्टर के पर्चे द्वारा मिलने वाली सामान्य दवा है। जिसे ऑनलाइन अधिकतर ग्राहकों ने ख़रीदा और पसंद किया है।

डॉक्टर से सलाह लीजिये

यदि आपको लगता है की समस्या कुछ ज्यादा बड़ी हो रही है। गैस के कारण पेट में दर्द होता है या अन्य परेशानी आती रहती है। जैसे गैस के साथ मल निकल जाना, पेट में सूजन, सीने में जलन, उल्टी होती है।

तो ऐसे में तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। डॉक्टर ही आपकी सही जांच कर के समस्या का निवारण बता पाएंगे।

सवाल जवाब (FAQ)

फ्लेटूलेंस से सम्बंधित कुछ महत्वपूर्ण सवाल है, जिसके जवाब निचे दिए है।

(1) पाद रोक ले तो फिर कहा जाती है?

पाद रोकने या बहार न निकलने देने पर वापस आंतो में चली जाती है। कुछ समय बाद पाद फिर से वायु मार्ग द्वारा बहार निकलने का प्रयास करती है।

(2) क्या मुंह से निकली डकार पाद का रूप है?

इसे पाद का रूप नहीं कह सकते, लेकिन गैस जरूर होती है। डकार पेट से निकलती है और इसका रासायनिक संगठन पाद वायु से अलग होता है। डकार में वातावरणीय हवा की मात्रा ज्यादा होती है।

(3) ऐसा क्या करे जिससे पाद ना आये?

ऐसा नहीं हो सकता की आपको बिलकुल ही पाद ना आये। यह एक सामान्य बायोलॉजिकल प्रक्रिया है, जो हर मनुष्य में देखने मिलती है। केवल सही आहार और एक्सरसाइज द्वारा इसका प्रमाण कम किया जा सकता है।

WebsiteDawailaj
NicheHealth
Post CategoryMeanings
ColorGreen

आशा करता हु Flatulence Meaning In Hindi की पूरी जानकारी देने में सफल रहा हु। मिलते है अपनी नेक्स्ट पोस्ट में तब तक टेक केयर।

DAWAiLAJ
Logo